हिंदुस्तान का भविष्य उज्ज्वल, युवा उसके निर्माता – डॉ. हरीश शेट्टी

हिंदुस्तान का भविष्य उज्ज्वल, युवा उसके निर्माता – डॉ. हरीश शेट्टी जीवन सांप-सीढ़ी का खेल, आते हैं उतार-चढ़ाव – प्रो. के.जी. सुरेश भोपाल, 12 जून, 2021: स्वीकार्यता जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है। समय के साथ बदलाव को अपनाइए, इससे भागिए नहीं। डर को स्वीकार करना साहस का कार्य है। देश के जाने-माने मनोचिकित्सक डॉ. हरीश शेट्टी ने सफल और खुशहाल…

पत्रकारिता विश्वविद्यालय में नए सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश अधिसूचना जारी

पत्रकारिता विश्वविद्यालय में नए सत्र 2021-22 के लिए प्रवेश अधिसूचना जारी 7 पाठ्यक्रम नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप होंगे फिल्म और ग्रामीण पत्रकारिता में दो नए पी.जी. डिप्लोमा प्रारंभ भोपाल, 07 जून, 2021: एशिया के पहले पत्रकारिता शिक्षा विश्वविद्यालय के रूप में प्रतिष्ठित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय आगामी नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 से नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति…

भारत में भगवान मंदिरों में नहीं प्रकृति में विद्यमान थे – डॉ राजेंद्र सिंह

भारत में भगवान मंदिरों में नहीं प्रकृति में विद्यमान थे – डॉ राजेंद्र सिंह पर्यावरण संरक्षण के लिए सस्टेनेबल डेवलपमेंट ही उपाय है – सुरेश श्रीवास्तव पर्यावरण संरक्षण में युवा पत्रकार समाज में चेतना लाएं – प्रो. केजी सुरेश पर्यावरण सुधार के लिए तपस्या और जुनून चाहिए – दीपक पर्वतयार भोपाल, 05 जून, 2021: भारत…

सफल कार्पोरेट कम्युनिकेशन में मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म की समझ जरूरी है – सुश्री मीतू समर

सफल कार्पोरेट कम्युनिकेशन में मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म की समझ जरूरी है – सुश्री मीतू समर सफल प्लेसमेंट के लिए विद्यार्थियों में दक्षता, क्षमता और अपना बेहतर प्रस्तुतिकरण आवश्यक – प्रो केजी सुरेश “कार्पोरेट कम्युनिकेशन में अवसर” विषय पर विशेष व्याख्यान भोपाल, 03 जून, 2021: मीडिया विद्यार्थियों के लिए कार्पोरेट कम्युनिकेशन एक सुनहरा और संभावनाओं वाला कैरियर क्षेत्र है, इस फील्ड…

प्राकृतिक आहार और सकारात्मक वातावरण से बढ़ती है इम्युनिटी : डॉ. एके गुप्ता

प्राकृतिक आहार और सकारात्मक वातावरण से बढ़ती है इम्युनिटी : डॉ. एके गुप्ता मानव कल्याण है प्रत्येक पैथी का उद्देश्य : प्रो. केजी सुरेश एमसीयू में कोरोना महामारी जागरूकता गतिविधियों के अंतर्गत ‘कोविड-19 एवं होमियोपैथी’ विषय पर जिज्ञासा-समाधान कार्यक्रम का आयोजन भोपाल, 02 जून, 2021: माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय की ओर से…

स्वस्थ पत्रकारिता चाहिए, तो पत्रकारों की चिंता करे समाज : अतुल तारे

स्वस्थ पत्रकारिता चाहिए, तो पत्रकारों की चिंता करे समाज : अतुल तारे भारतीय भाषाओं में पत्रकारिता के पाठ्यक्रम होंगे शुरू : प्रो. केजी सुरेश कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने कहा कि माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत स्थापित होगा ‘भाषायी पत्रकारिता विभाग’ भोपाल, 31 मई, 2021: वरिष्ठ पत्रकार…

डिजिटल मीडिया में सफलता के लिए बहुआयामी दक्षता और रचनात्मकता की आवश्यकता : आलोक वर्मा

डिजिटल मीडिया में सफलता के लिए बहुआयामी दक्षता और रचनात्मकता की आवश्यकता : आलोक वर्मा विद्यार्थी नौकरी का मोह छोड़कर उद्यमी बन कुछ नया करें : प्रो. केजी सुरेश एमसीयू में ‘डिजिटल मीडिया में अवसर’ विषय पर विशेष व्याख्यान भोपाल, 28 मई, 2021: माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय की ओर से विद्यार्थियों को…

आयुष में शामिल विधाएं केवल परंपराएं नहीं, ये विज्ञान हैं : वैद्य राजेश कोटेचा

आयुष में शामिल विधाएं केवल परंपराएं नहीं, ये विज्ञान हैं : वैद्य राजेश कोटेचा लोकहित में सभी चिकित्सा पद्धतियों में सामंजस्य होना चाहिए: प्रो. केजी सुरेश एमसीयू में कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता गतिविधियों के अंतर्गत ‘कोविड-19: आयुष और कोरोना‘ विषय पर व्याख्यान एवं जिज्ञासा समाधान सत्र का आयोजन भोपाल, 27 मई, 2021: आयुष के…

कोरोना महामारी, वायरस और इंसानों के बीच एक जंग है : डॉ. श्रीनिवास राव

कोरोना महामारी, वायरस और इंसानों के बीच एक जंग है : डॉ. श्रीनिवास राव वैज्ञानिक बातों को सरल भाषा में समाज के बीच ले जाना पत्रकारों का दायित्व : प्रो. केजी सुरेश एमसीयू में अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर ‘कोविड-19 और आहार के महत्व’ पर सेमिनार आयोजित भोपाल, 23 मई, 2021: न्यूयॉर्क के वैज्ञानिक डॉ.…